आज के इस artical में हम आपको बताने वाले की fishing  kya hai ( What is fishing in hindi) .


आज का युग internet  का युग है . आज हमारे सभी काम ऑनलाइन होते है. यहाँ तक कि अगर हमें किसी को पैसे भेजने होते है तो हम ऑनलाइन मनी ट्रांजेक्शन का सहारा लेते है.

वैसे देखा जाए तो आज internet ने हमारे कामो को आसान बना दिया है  . लेकिन आज internet पर हम असुरक्षित भी है.  क्योकि आये दिन हैम ऐसे मामले सुनते है जिसमे किसी को ठग लिया जाता है.

कोई मोबाइल कॉल का इस्तेमाल करता है तो अपनी हैकिंग स्किल्स के जरिये लोगो ठगता है. हैकर ज्यादा फिशिंग का इस्तेमाल करता है .

अब आपके मन मे सवाल होगा कि fishing kya hai ओर fishing kaise kaam karti hai. आज के इस पोस्ट में हम इन्ही के बारे में बात करने वाले है.

Fishing kya hai ( What is fishing) 


जिस फिशिंग की हम बात कर रहे हैं उसका मतलब मछलियां पकड़ना नहीं है . लेकिन इन दोनो का उद्देश्य एक जैसा ही होता है. क्योकि मछली पकड़ने वाला भी मछली को अपने काटे में फ़साने के लिए कोई चारा डालता है. जिससे मछली उसके काटे में फस जाती है.

इस प्रकार हैकर भी अपने शिकार को फ़साने के लिए लालच देते है. जिसका नाम है फिशिंग.

फिशिंग में हैकर अपने विक्टिम को अपने जाल में फ़साने के लिए एक मेल भेजता है जिसमे व्यक्ति अपनी डिटेल भर देता है . इस प्रकार हैकर को सारा data मिल जाता है.

फिशिंग पेज की पहचान कैसे करे(Fishing page ki phchan kaise kre)

Fishing kya hai || What is fishing in hindi, कैसे होती है फ़िशिंग जाने

फिशिंग पेज की पहचान करना बहुत ही सरल है .अगर आपके पास कोई भी फिशिंग पेज आया है जैसे वह आपका फेसबुक का पेज है तो आप उसके यूआरएल को चेक कीजिए उसके अंदर आपको फेसबुक की मिस्टेक मिलेगी. यह उसकी सबसे बड़ी पहचान होती है.

फिशिंग पेज भेजने का तरीका (fishing page bhanne ka trika)

फिशिंग पेज किसी भी जीमेल या सोशल मीडिया अकाउंट से भेजा जा सकता है. जैसे व्हाट्सएप फेसबुक लेकिन सबसे ज्यादा फिशिंग जीमेल से ही की जाती है .क्योंकि बहुत सारे hacker  बड़ी-बड़ी कंपनियों के नाम से अपनी जीमेल बनाते हैं और उसी तरह का फिशिंग पेज तैयार करके आपके पास भेजते हैं जिसे आप अपना डाटा भर दे.

 हैकर फिशिंग पेज को बहुत सारे जरिये से भेजते है. वह आपको फिशिंग पेज जीमेल, मेसज , whatapp, फेसबुक आदि के जरिये भेज सकते है.


 आशा है की आपको fishing kya hai इसके बारे में पूरा पता चल गया होगा. ऐसे ही ओर पोस्ट पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट को मेल id के जरिये सब्सक्राइब कर ले ताकि हम जब भी हमारी वेबसाइट पर कोई post ढाले तो आप तक उसकी नोटिफिकेशन पहुँच जाए.

Post a Comment

Previous Post Next Post